Monday, 23 April 2018

रात और दिन


निशा से मिलने की नाकाम कोशिशों में शर्म से चेहरा लाल करके सागर में डूब गया है दिन.

नादान है, ये नहीं जानता कि उसे किसी भी जनम में कामयाबी हासिल नहीं होनी है.